INDIA ब्लॉक नेताओं ने इलेक्शन कमीशन से मुलाकात की: चुनावी प्रक्रिया में निष्पक्षता और नियमों के पालन की मांग की; 4 जून को काउंटिंग

  • Hindi News
  • National
  • Lok Sabha Election 2024 Counting Process; INDIA Bloc Leaders | Election Commission

नई दिल्ली25 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

INDIA गुट के नेताओं ने रविवार को इलेक्शन कमीशन की पूरी बेंच से मुलाकात की। नेताओं के डेलिगेशन ने चुनाव आयोग काउंटिंग के नियमों पर चर्चा की और कहा कि यह सुनिश्चित करें कि 4 जून को वोट काउंटिंग की प्रक्रिया के सभी नियमों का पालन हो।

चुनाव आयोग से मुलाकात को लेकर कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद बोले- हमने काउंटिंग प्रक्रिया के दौरान कड़ी निगरानी की मांग की है और चुनाव आयोग ने हमें संतोषजनक जवाब दिया है। हमने किसी नियम पर सवाल नहीं उठाया, बल्कि यह सुनिश्चित किया कि इन नियमों का कड़ाई से पालन हो।

शनिवार को INDIA गुट के नेताओं ने बैठक कर 4 जून के लिए रणनीति बनाई थी। बैठक के बाद कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा था कि वे रविवार को चुनाव आयोग से मिलकर कुछ मुद्दों पर बात करेंगे। विपक्षी दलों ने अपने एजेंट्स को निर्देश दिया है कि वे वोटों की गिनती की प्रक्रिया पर करीब से नजर रखेंगे। साथ ही यह सुनिश्चित करेंगे कि हर पोलिंग स्टेशन में रिकॉर्ड किए गए वोटों के आंकड़े वाला फॉर्म 17C उनके साथ शेयर किया जाएगा।

I.N.D.I.A गठबंधन की बैठक में 23 पार्टियों के नेता शामिल हुए। बैठक के बाद संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

I.N.D.I.A गठबंधन की बैठक में 23 पार्टियों के नेता शामिल हुए। बैठक के बाद संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

पोस्टल बैलेट्स की गिनती पहले कराने की मांग
इलेक्शन कमीशन से मुलाकात के बाद INDIA बलॉक नेताओं ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि आज हमने चुनाव आयोग के सामने दो-तीन मुद्दे रखे। पहला और सबसे अहम मुद्दा है पोस्टल बैलेट्स। यह जानी-मानी प्रक्रिया है जो चुनाव के नतीजों को एक तरफ से दूसरी तरफ ले जा सकती है।

उन्होंने कहा कि कई बार ऐसा हुआ है कि सभी पार्टियों के बीच वोट्स का जो फर्क है, पोस्टल बैलेट्स में वह फर्क दो गुना या तीन गुना होता है। परिणाम के मामले में पोस्टल बैलेट्स निर्णायक सिद्ध होते हैं। चुनाव आयोग का एक नियम है जो कहता है कि पोस्टल बैलेट्स की गिनती पहले की जाएगी। यानी EVM की गिनती के पहले बैलेट्स की गिनती की जाएगी।

वे बोले कि इस नियम को कई बार चिटि्ठयों के जरिए चुनाव आयोग ने दोहराया है कि EVM की गिनती से पहले पोस्टल बैलेट्स की गिनती शुरू की जाएगी और सबसे जरूरी बात यह है कि आप EVM की गिनती तब तक बंद नहीं कर सकते या ईवीएम के नतीजे नहीं बता सकते, जब तक बैलेट्स का रिजल्ट घोषित न हो जाए।

सिंघवी ने कहा कि हमारी चुनाव आयोग से यही शिकायत थी कि आयोग ने एक गाइडलाइन लाकर इस नियम को बदला है, जो कानून के मुताबिक किया ही नहीं जा सकता। कोई गाइडलाइन लाकर नियम को नहीं बदला जा सकता है। नई गाइडलाइन के मुताबिक अब बैलेट्स की गणना पूरी होने के पहले EVM के नतीजे दिए जा सकते हैं।

हमारी चुनाव आयोग से यही मांग थी कि जो पोस्टल बैलेट चुनाव के नतीजों में फेरबदल कर सकते हैं, उनकी गिनती ईवीएम से पहले पूरी की जाए। साथ ही एक लेवल प्लेइंग फील्ड के लिए, लोकतंत्र के लिए, स्वतंत्र चुनाव के लिए, यह जरूरी है कि जो पुराना नियम था, उसी का पालन किया जाए।

लोकसभा चुनाव 2024 की ताजा खबरें, रैली, बयान, मुद्दे, इंटरव्यू और डीटेल एनालिसिस के लिए दैनिक भास्कर ऐप डाउनलोड करें। 543 सीटों की डीटेल, प्रत्याशी, वोटिंग और ताजा जानकारी एक क्लिक पर।