हैंड ग्रेनेड-टिफिन बम बरामदगी से पंजाब अलर्ट: रात की सुरक्षा के लिए 135 DSP और SP फील्ड में उतारे, RSS शाखा समेत संवेदनशील जगहों पर नजर

0
21

  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • चंडीगढ़
  • हैंड ग्रेनेड टिफिन बम बरामदगी से पंजाब अलर्ट, रात की सुरक्षा के लिए मैदान में उतरे 135 डीएसपी और एसपी, आरएसएस शाखा समेत संवेदनशील जगहों पर फोकस

चंडीगढ़3 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पठानकोट में रात के वक्त चेकिंग करते एसएसपी सुरिंदर लांबा।

पंजाब में हैंड ग्रेनेड और टिफिन बम की बरामदगी ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है। जिसके बाद रात के वक्त सिक्योरिटी के लिए 135 गजडेट अफसरों को फील्ड में उतार दिया गया है। यह अफसर अपनी ड्यूटी करें, इसलिए गृह मंत्रालय संभाल रहे डिप्टी सीएम सुखजिंदर रंधावा खुद इनकी लोकेशन चैक करेंगे।

रंधावा ने मंगलवार को अमृतसर में लॉ एंड ऑर्डर और बॉर्डर रेंज के अफसरों से मीटिंग की थी। जिसके बाद डीजीपी इकबालप्रीत सहोता ने इस संबंध में ऑर्डर जारी कर दिए। जिसमें राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ(RSS) की शाखाओं के साथ दूसरी संवेदनशील जगहों पर फोकस करने को कहा है।

पंजाब में रात के वक्त चेकिंग करते अफसर

पंजाब में रात के वक्त चेकिंग करते अफसर

आर्मी कैंट पर ग्रेनेड अटैक के बाद कदम
चार दिन पहले पठानकोट स्थित आर्मी कैंट के गेट पर ग्रेनेड अटैक हुआ था। जिसमें कोई जानी नुकसान तो नहीं हुआ लेकिन रात के वक्त पुलिस की सुरक्षा खामी नजर आई। इसके बाद पुलिस को पाकिस्तान सीमा से डेढ़ किमी दूर बमियाल गांव में 2 संदिग्धों की सूचना मिली। पुलिस ने आर्मी और BSF के साथ मिलकर सर्च ऑपरेशन भी चलाया। हालांकि कोई पकड़ में नहीं आ सका। जिसके बाद सरकार अलर्ट हो गई है।

विधानसभा चुनाव बनी चिंता
पंजाब में साढ़े 3 महीने बाद विधानसभा चुनाव हैं। उससे पहले इस तरह के अटैक और हथियार बरामदगी से सरकार की चिंता बढ़ी हुई है। सरकार ने हाल ही में BSF का दायरा 15 किमी से बढ़ा 50 किमी करने के मामले में भी विरोध जताया था। सरकार का तर्क था कि पंजाब पुलिस सुरक्षा में सक्षम है। जिसके बाद अब रात की सुरक्षा भी अफसरों को सौंपी गई है।

डीजीपी इकबालप्रीत सहोता

डीजीपी इकबालप्रीत सहोता

सेक्टर में बांटे पुलिस जिले, ड्रोन पर खास नजर : DGP
डीजीपी इकबालप्रीत सहोता ने बताया कि हर पुलिस जिले को सेक्टरों में बांटा गया है। जहां रात को DSP या SP रैंक के अफसर नाइट पेट्रोलिंग की अगुवाई करेंगे। नाका और गाड़ियों की चेकिंग के साथ उन्हें रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, धार्मिक स्थलों, RSS शाखा और दूसरी संवेदनशील जगहों पर नजर रखने को कहा गया है। इसके अलावा पुलिस कमिश्नर और SSP को कहा गया है कि ड्रोन या इन जगहों पर घूम रहे संदिग्ध व्यक्ति पर नजर रखें।

खबरें और भी हैं…

.