Homeबिजनेस न्यूजसितंबर में निर्यात 22.63 फीसदी बढ़कर 33.79 अरब डॉलर हुआ; व्यापार...

सितंबर में निर्यात 22.63 फीसदी बढ़कर 33.79 अरब डॉलर हुआ; व्यापार घाटा 22.59 अरब डॉलर

गुरुवार को जारी आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, प्रमुख क्षेत्रों के बेहतर प्रदर्शन के कारण सितंबर में भारत का व्यापारिक निर्यात 22.63 प्रतिशत बढ़कर 33.79 अरब डॉलर हो गया, जबकि व्यापार घाटा बढ़कर 22.59 अरब डॉलर हो गया। सितंबर में पण्य आयात 56.39 अरब डॉलर रहा, जो एक साल पहले की समान अवधि की तुलना में 84.77 फीसदी अधिक है।

आंकड़ों से पता चलता है कि सितंबर में व्यापार घाटा बढ़कर 22.59 अरब डॉलर हो गया, जो पिछले साल इसी महीने में 2.96 अरब डॉलर था। सितंबर के दौरान सोने का आयात बढ़कर 5.11 बिलियन अमेरिकी डॉलर हो गया, जबकि पिछले साल की समान अवधि में यह 601 मिलियन अमेरिकी डॉलर था।

सितंबर में तेल आयात 17.44 बिलियन अमरीकी डॉलर था, जो सितंबर 2020 में 5.83 बिलियन अमरीकी डॉलर था। अप्रैल-सितंबर 2021 के दौरान, आयात पिछले वर्ष की समान अवधि में 32.01 बिलियन अमरीकी डॉलर के मुकाबले 72.99 बिलियन अमरीकी डॉलर रहा।

इस महीने के दौरान सकारात्मक वृद्धि दर्ज करने वाले निर्यात क्षेत्रों में कॉफी, काजू, पेट्रोलियम उत्पाद, हथकरघा, इंजीनियरिंग, रसायन, मानव निर्मित यार्न / कपड़े, रत्न और आभूषण, प्लास्टिक और समुद्री उत्पाद शामिल हैं। संचयी रूप से, निर्यात अप्रैल-सितंबर 2020 के दौरान 125.62 बिलियन अमरीकी डालर के मुकाबले 57.53 प्रतिशत बढ़कर 197.89 बिलियन अमरीकी डॉलर हो गया।

अप्रैल-सितंबर 2020 के दौरान 151.94 बिलियन अमरीकी डालर के मुकाबले इस अवधि के दौरान आयात 81.67 प्रतिशत बढ़कर 276 बिलियन अमरीकी डालर हो गया। वित्त वर्ष के पहले छह महीनों के दौरान व्यापार घाटा अप्रैल-सितंबर 2020 के दौरान 26.31 बिलियन अमरीकी डालर के मुकाबले बढ़कर 78.13 बिलियन अमरीकी डॉलर हो गया। .

फेडरेशन ऑफ इंडियन एक्सपोर्ट ऑर्गनाइजेशन (फियो) के वाइस चेयरमैन खालिद खान ने कहा कि इस ट्रेंड के हिसाब से भारत वित्त वर्ष के अंत तक 400 अरब डॉलर के निर्यात को प्रभावित करेगा। खान ने कहा, ‘लेकिन हमें व्यापार घाटे को लेकर थोड़ा सतर्क रहना चाहिए।

फियो के अध्यक्ष ए शक्तिवेल ने कहा कि दुनिया भर में वैश्विक अर्थव्यवस्थाओं में सुधार और आने वाले महीनों के लिए विशेष रूप से त्योहारी सीजन के दौरान ऑर्डर बुकिंग की स्थिति में उछाल की उम्मीदों ने भी निर्यात में इस तरह की निरंतर वृद्धि की है। टेक्नोक्राफ्ट इंडस्ट्रीज इंडिया के संस्थापक अध्यक्ष शरद कुमार सराफ ने कहा कि निर्यात में वृद्धि अर्थव्यवस्था के लिए एक स्वस्थ संकेत है लेकिन व्यापार अंतर का बढ़ना निश्चित रूप से चिंता का विषय है।

सभी पढ़ें ताज़ा खबर, ताज़ा खबर तथा कोरोनावाइरस खबरें यहां। हमारा अनुसरण इस पर कीजिये फेसबुक, ट्विटर तथा तार.

.

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments