भारत ने लगाई पाकिस्तान को फटकार: UN में कश्मीर के मुद्दे को उठाने पर कहा- जम्मू-कश्मीर, लद्दाख भारत का अभिन्न अंग थे, हैं और रहेंगे

  • Hindi News
  • National
  • India To Pakistan At UN: Jammu Kashmir And Ladakh Integral Part Of India

2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

भारत ने शुक्रवार को पाकिस्तान को जम्मू-कश्मीर पर दिए गए बयान को लेकर फटकार लगाई। संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन के काउंसलर राजेश परिहार ने कहा कि पाकिस्तान के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जरदारी द्वारा की गई टिप्पणी का उद्देश्य भारत पर गलत इलजाम लगाना है।

पाकिस्तान के विदेश मंत्री जरदारी ने परिषद की बहस के दौरान जम्मू और कश्मीर से आर्टिकल 370 को निरस्त करने और परिसीमन आयोग के हालिया आदेश को उठाया। इसके बाद उन्होंने गुरुवार को न्यूयॉर्क में प्रेस कॉन्फ्रेंस में भी कश्मीर का मुद्दा उठाया।

जरदारी ने कहा कि कश्मीर में भारत की कार्रवाइयां संयुक्त राष्ट्र, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों और जिनेवा कन्वेंशन पर हमला है। भारत के साथ पाकिस्तान के रिश्ते पर जरदारी ने कहा कि ऐसी कार्रवाइयों के बाद हमारा भारत के साथ बातचीत करना बहुत मुश्किल हो गया है।

पाकिस्तान स्टेट स्पॉन्सर्ड आतंकवाद को रोकने में योगदान दे
राजेश परिहार ने कहा कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख भारत का एक अभिन्न और अविभाज्य हिस्सा थे, हैं और रहेंगे। इसमें वे क्षेत्र भी शामिल हैं जो पाकिस्तान के अवैध कब्जे में हैं। इससे कोई भी देश इनकार नहीं कर सकता है। पाकिस्तान हमारी मदद करना चाहता है तो वह स्टेट स्पॉन्सर्ड आतंकवाद को रोकने में योगदान दे सकता है। इसके अलावा जरदारी की किसी बात का हमारे लिए कोई महत्व नहीं है। हम इसका तिरस्कार करते हैं।

भारतीय विदेश मंत्रालय बोला- आर्टिकल 370 को खत्म करना हमारा आंतरिक मामला
इससे पहले भारतीय विदेश मंत्रालय ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से स्पष्ट रूप से कहा था कि आर्टिकल 370 को खत्म करना उसका आंतरिक मामला है। जम्मू और कश्मीर हमेश भारत का अभिन्न अंग बना रहेगा। पाकिस्तान इसे स्वीकार करे और भारत विरोधी सभी प्रचार को रोके। परिहार ने कहा कि भारत पाकिस्तान के साथ सामान्य पड़ोसी संबंध चाहता है।

अगस्त 2019 में जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाई गई थी
भारत सरकार ने 5 अगस्त, 2019 में जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले आर्टिकल 370 को खत्म कर दिया था। इससे जम्मू-कश्मीर में भी भारत का संविधान लागू होने का रास्ता साफ हो गया। सरकार ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को अलग केंद्र शासित प्रदेश बना दिया। भारत के इस फैसले के बाद पाकिस्तान ने कड़ी प्रतिक्रिया दी।

खबरें और भी हैं…

.