चीनी नागरिकों का टूरिस्ट वीजा रद्द: 20 हजार भारतीय छात्रों को लौटने की परमिशन नहीं दे रहा है चीन, बदले में भारत ने लिया एक्शन

  • Hindi News
  • National
  • India Suspend E tourist Visa Issued To The Citizens Of China, Indian Students Had Come Back To India From China Due To Corona, China Is Not Allowing Indian Students To Return.

नई दिल्ली3 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

भारत ने चीन के नागरिकों को जारी किए गए टूरिस्ट वीजा को रद्द कर दिया है। हालांकि, बिजनेस, एम्लॉयमेंट, ऑफिशियल वीजा अभी भी दिया जा रहा है। एक रिपोर्ट के अनुसार, भारत सरकार ने चीनी नागरिकों का टूरिस्ट वीजा ऐसे समय में रद्द किया है जब चीन 20 हजार से अधिक भारतीय छात्रों को वापस लौटने की अनुमति नहीं दे रहा है। ये सभी छात्र कोरोना के चलते चीन से भारत वापस आए थे। चीन ने पाकिस्तान, थाईलैंड और श्रीलंका के छात्रों को लौटने की अनुमति दे दी है, लेकिन भारतीय छात्रों को वेटिंग में रखा है।

IATA ने दी जानकारी
इंटरनेशनल एयरपोर्ट ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन (IATA) ने जानकारी देते हुए कहा कि एक अपडेट जारी किया जा रहा है ताकि एयरलाइंस को पता चल सके कि किन देशों में उड़ान भरने की अनुमति है। IATA ने यह अपडेट 19 अप्रैल को जारी किया था। IATA के मुताबिक, यह अपडेट उन देशों के बारे में है, जिनके नागरिक ई-टूरिस्ट वीजा पर भारत की यात्रा नहीं कर सकते।

विदेश मंत्री उठा चुके हैं ये मुद्दा
भारतीय विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने पिछले महीने चीनी विदेश मंत्री वांग यी के सामने इस मुद्दे को उठाया था, लेकिन उनकी तरफ से अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली। ब्रिटेन और कनाडा के नागरिकों भी ई-टूरिस्ट वीजा पर भारत यात्रा पर नहीं आ सकते हैं। भारत सरकार ने पहले से ही इन देशों के नागरिको के ई-टूरिस्ट वीजा पर रोक लगा रखा है। हालांकि, वो उन देशों में भारतीय मिशन की तरफ से जारी रेग्युलर पेपर वीजा पर भारत आ सकते हैं।

27 मार्च को इंटरनेशनल फ्लाइट्स शुरू हुई
देश में कोरोना संक्रमण के केस कम होने पर केंद्र सरकार ने दो साल बाद 27 मार्च को इंटरनेशनल फ्लाइट्स शुरू कर दी। इस दौरान केंद्र सरकार के तरफ से करीब 156 देशों के ई-टूरिस्ट वीजा की सुविधा को एक बार फिर बहाल किया गया। सभी पहलुओं की समीक्षा के बाद केंद्र सरकार ने इंटरनेशनल फ्लाइट्स सर्विस को दोबारा शुरू करने का फैसला लिया था। इसके लिए डायरेक्टर जनरल ऑफ सिविल एविएशन (DGCA)की तरफ से एक नई गाइडलाइन तैयार की गई थी।

खबरें और भी हैं…

.